अनुवाद विभाग

प्रस्तावना

अनुसंधान विद्या-शाखा का अनुवाद अनुभाग अनुसंधान विभाग के महत्त्वपूर्ण घटकों में से एक है । अत्युच्च कोटि के भारतीय तथा तिब्बती विद्वानों के धर्म-ग्रंथ पाठों के कई सारे अनुवादों में यह अनुभाग लगा रहता है । प्रमुख तथा गौण प्रकल्पों के कई महत्त्वपूर्ण पाठों को इस अनुभाग ने अपने कंधों पर लिया है और यह एक सातत्य से चल रही प्रक्रिया है । 1998 में इस अनुभाग ने प्रारम्भ से लेकर दो दर्जन से भी अधिक ग्रंथों का तिब्बती के साथ हिंदी/अँग्रेजी अनुवाद, समालोचनात्मक संपादनों के साथ प्रकाशित किया है । इसके अलावा, उपलब्ध संस्कृत तथा तिब्बती अनुवाद का समालोचनात्मक संपादन अनुसंधानाभिमुख प्रस्तावना तथा परिशिष्टों के साथ कार्यपथ पर है । इनमें से तिब्बती स्रोतों के पाठों का पुनरुद्धार करने वाली महत्त्वपूर्ण श्रेष्ठ रचनाँए तथा उनके हिंदी अनुवाद पूरे हो चुके हैं । इसके साथ-साथ, छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए यह अनुभाग अनुवाद प्रणालीशास्त्र पर कक्षाएँ चलाता है तथा युवा पीढ़ियों में रुचि तथा जागरूकता पैदा करने के लिए लघु अवधि की संस्कृत कक्षाएँ चलाता है । मॅसॅशुसेट्स, यूएसए तथा तस्मानिया विश्वविद्यालय, ऑस्ट्रेलिया के साथ आदान-प्रदान कार्यक्रम में भी इस अनुभाग ने 1990 से आज तक सक्रिय योगदान किया है । हैंपशायर कॉलेज, स्मिथ कॉलेज तथा बहुप्रतिष्ठित ऐमहर्स्ट कॉलेज 1995 तथा 2007 के वसंत सत्रों में इस कार्यक्रम के अर्न्तगत अध्यापन कार्य में इस अनुवाद अनुभाग के सह-प्राध्यापक सबसे पहले प्राध्यापक थे ।

अध्येता वृंद

  1. Ven. Professor Lobsang Norbu Shastri
    Professor
  2. डॉ. पेमा तेन्ज़िन
    Associate Professor, In-charge Publication
  3. Dr. Ramji Singh,
    Research Assistant
  4. Mr. Yishey Wangdu,
    Research Assistant

प्रकाशित पुस्तकें

  1. शीर्षक : आचार्य दीपंकरश्रीज्ञानकृत बोधिपथप्रदीप
    लेखक
    : पूज्य लोब्संग नोर्बु शास्त्री द्वारा पुनरुद्धार तथा अनुवाद
    ग्रंथ-स्वरूप
    : तीन व्यक्तियों का मार्ग
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत, हिंदी तथा अँग्रेजी
    प्रकाशन वर्ष
    : प्रथम संस्करण, 1984
  2. शीर्षक : आचार्य दीपंकरश्रीज्ञानकृत बोधिपथप्रदीप
    लेखक
    : पूज्य लोब्संग नोर्बुशास्त्री द्वारा पुनरुद्धार तथा अनुवाद
    ग्रंथ-स्वरूप
    : तीन व्यक्तियों का मार्ग
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत, हिंदी तथा अँग्रेजी
    प्रकाशन वर्ष
    : द्वितीय संस्करण, 1994
  3. शीर्षक : (Insert Tibetan name)
    ग्रंथ-स्वरूप
    : यात्रा-क्रम
    भाषा
    : तिब्बती,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : पूज्य लोब्संग नोर्बु शास्त्री द्वारा सम्पादन
    प्रकाशन वर्ष
    : 1986
  4. शीर्षक : अभिसमयालंकारमहाशास्त्र-कायव्यवस्था टीका-खेन्पो छ़ेंदु कृत,
    लेखक
    : डॉ. पेमा तेन्ज़िन द्वारा संपादन तथा अनुवाद,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : प्रज्ञापारमिता पर भाष्य,
    भाषा
    : संस्कृत, तिब्बती तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1988
  5. शीर्षक : मुक्तलतावदान, क्षेमेंद्र कृत,
    लेखक
    : डॉ. पेमा तेन्ज़िन द्वारा अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : अवदान साहित्य,
    भाषा
    : संस्कृत, हिंदी तथा अँग्रेजी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1989
  6. शीर्षक : छंदोरत्नाकर, आचार्य रत्नाकरशांति के स्वयं-भाष्य समेत,
    लेखक
    : पूज्य लोब्संग नोर्बु शास्त्री द्वारा पुनरुद्धार अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : छंदशास्त्र
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1990
  7. शीर्षक : गर्भसंग्रह,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतीश विरचित एकादश ग्रंथ,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-स्वरूपः
    बौद्ध दर्शन,
    भाषाः
      तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्षः
    1992
  8. शीर्षक : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : बोधिसत्त्व आदर्श,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  9. शीर्षक : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ
    ग्रंथ-स्वरूप
    : त्रिशरण,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  10. शीर्षक : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : महायान साधना मार्ग,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  11. शीर्षक : सूत्रार्थसमुच्चयोपदेश,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : सूत्र-संकलन का अर्थ,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  12. शीर्षक : दशकुशलकर्मपथदेशना,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद, तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : दस हितकर मार्ग,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  13. शीर्षक : चर्यासंग्रह प्रदीप,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : आचार-संग्रह,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन
    : 1992
  14. शीर्षक : चित्तोत्पादसंवरविधिक्रम,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  15. Tiशीर्षक : आपत्तिदेशनाविधि,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  16. शीर्षक : गुरुक्रियाक्रम,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित आचार्य एकादशग्रंथ,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : गुरुक्रिया की अवस्थाएँ,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  17. शीर्षक : समाधिसंभारपरिवर्त,
    लेखक
    : रमेशचंद्र नेगी द्वारा पुनरुद्धार, अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-शीर्षक
    : अतिश विरचित एकादश ग्रंथ,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : ध्यान के लिए कुशलकर्मो का संपादन,
    भाषा
    : तिब्बती, संस्कृत तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1992
  18. शीर्षक : आर्यप्रज्ञापारमितावज्रच्छेदिकासूत्र, कमलशीलकृत भाष्य के साथ,
    लेखक
    : डॉ. पेमा तेन्ज़िन द्वारा पुनरुद्धार तथा संपादन,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : वज्रच्छेदिका सूत्र का प्रज्ञा भाष्य,
    भाषा
    : संस्कृत तथा तिब्बती, 
    प्रकाशन वर्ष
    : 1994
  19. शीर्षक : त्रिशतिकारिका-सप्तति,
    लेखक
    : डॉ. पेमा तेन्ज़िन द्वारा पुनरुद्धार तथा संपादन,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : वज्रच्छेदिकासूत्र की प्रज्ञा पर भाष्य,
    भाषा
    : संस्कृत तथा तिब्बती,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1997
  20. शीर्षक : भर्तृहरि कृत नीतिशतकम्,
    लेखक
    : पूज्य लोब्सङ् नोर्बु शास्त्री तथा डॉ. तेन्ज़िन धोन्यो द्वारा अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-स्वरूपः नीति परश्लोक,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1996
  21. शीर्षक : सुहृल्लेख, रेंदावा के भाष्य समेत,
    लेखक
    : डॉ. पेमा तेन्ज़िन द्वारा अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : धर्म-पत्र,
    भाषा
    : तिब्बती तथा हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1996
  22. शीर्षक : कातंत्रोणादिसूत्र, दुर्गासिंहकृत भाष्य समेत,
    लेखक
    : पूज्य लोब्संग नोर्बु शास्त्री द्वारा अनुवाद तथा संपादन,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : संस्कृत व्याकरण,
    भाषा
    : संस्कृत तथा तिब्बती,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1996
  23. शीर्षक : बौद्ध दर्शन, संस्कृति तथा साहित्यः महापंडित राहुल सांकृत्यायन का योगदान,
    लेखक
    : प्रो. रामशंकर त्रिपाठी तथा डॉ. विजय शंकर चौबे द्वारा संपादित,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : सेमिनार प्रोसीडिंग्ज़,
    भाषा
    : हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1997
  24. शीर्षक : गांधी के ग्राम-स्वराज्य सिद्धांत की प्रत्यवेक्षा,
    लेखक
    : प्रो. रामशंकर त्रिपाठी तथा डॉ. विजयशंकर चौबे द्वारा संपादित,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : सेमिनार प्रोसीडिंग्ज़्,
    भाषा
    : हिंदी
    प्रकाशन वर्ष
    : 1998
  25. शीर्षक : धर्मनिरपेक्षता तथा राष्ट्रीय
    लेखक
    : डॉ. विजयशंकर चौबे द्वारा सम्पादित,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : सेमिनार प्रोसीडिंग्ज,
    भाषा
    : हिंदी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 1998
  26. शीर्षक : वाग्भट्कृत अष्टांगह्यदय, खण्ड-1,
    लेखक
    : पूज्य लोब्संग नोर्बुशास्त्री तथा डॉ. दोर्जी डमडुल द्वारा संपादन तथा तिब्बती भाष्य,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : वैद्यक ग्रंथ,
    भाषा
    : संस्कृत तथा तिब्बती,
    प्रकाशन वर्ष
    : 2000
  27. शीर्षक : वररुचिकृत शतगाथा,
    लेखक
    : पूज्य लोब्संग नोर्बु शास्त्री द्वारा पुनरुद्धार तथा अनुवाद,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : सुभाषित,
    भाषा
    : संस्कृत, तिब्बती, हिंदी तथा अँग्रेजी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 2001
  28. शीर्षक : आचार्य नागार्जुनकृत सुहृल्लेख तथा महामति कृत व्यक्तपद टीका,
    लेखक
    : डॉ. पेमा तेन्ज़िन द्वारा पुनरुद्धार तथा सम्पादन,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : धर्म-पत्र,
    भाषा
    : संस्कृत तथा तिब्बती,
    प्रकाशन वर्ष
    : 2002
  29. शीर्षक : मोक्षाकरगुप्त कृत तर्कभाषा,
    लेखक
    : पूज्य लोब्संङ नोर्बु शास्त्री द्वारा संपादन तथा अनुवाद
    ग्रंथ-स्वरूप
    : बौद्ध न्यायशास्त्र,
    भाषा
    : संस्कृत तथा तिब्बती,
    प्रकाशन वर्ष
    : 2004Title:
    Carakasamhita of Agnivesh I Vol. 
  30. शीर्षक : अग्निवेशकृत चरकसंहिता, खंड-1,
    लेखक
    : पूज्य लोब्संङ् नोर्बु शास्त्री तथा डॉ. लोब्सङ् तेन्ज़िन द्वारा संपादित तथा अनुवादित,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : वैद्यक ग्रंथ,
    भाषा
    : संस्कृत तथा
    तिब्बती प्रकाशन वर्ष
    : 2006
  31. शीर्षक : अश्वघोषकृत वज्रसूची,
    लेखक
    : पूज्य लोब्सङ् नोर्बु शास्त्री तथा डॉ. लोब्लङ् दोर्जी राब्लिङ् द्वारा संपादित तथा अनुवादित
    ग्रंथ-स्वरूप
    : जाति-व्यवस्था खंडन,
    भाषा
    : संस्कृत, तिब्बती, हिंदी तथा अँग्रेजी,
    प्रकाशन वर्ष
    : 2006
  32. शीर्षक : जा पटुल कृत गुरु समंतभद्र मुखागम,
    लेखक
    : डॉ. पेमा तेन्ज़िन द्वारा अनुवादित,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : बौद्ध साधना पुस्तिका
    भाषा
    : हिंदी
    प्रकाशन वर्ष
    : 2009
  33. शीर्षक : Water-tree Treatises of Gun Than Tenpai Dronme
    लेखक
    : पूज्य लोब्संग नोर्बु शास्त्री, येशी टशी तथा तेन्ज़िन डोल्मा द्वारा संपादित तथा अनुवादित,
    ग्रंथ-स्वरूप
    : सुभाषित
    भाषा
    : तिब्बती, हिंदी तथा अँग्रेजी
    प्रकाशन वर्ष
    : 2010

चल रहे प्रकल्प

  1. आचार्य अग्निवेशकृत चरक संहिता, खण्ड-2
    सूत्रस्थान (वैद्यक) के अंतिम 15 अध्यायों का   समालोचनात्मक संपादन तथा इतिहास में पहली बार तिब्बती अनुवाद ।
  2. आचार्य शान्तरक्षित तथा आचार्य कमलशील की तत्त्वसंग्रहपंजिका
    उपर्युक्त पाठों के संस्कृत तथा तिब्बती दोनों पाठांतरों का सम्पादन (बौद्ध न्याय) ।
  3. आचार्य वागीश्वरकीर्ति कृत मृत्युवंचना
    आचार्य वागीश्वरकीर्ति के संस्कृत पाठ का समालोचनात्मक संपादन, हिंदी तथा अँग्रेजी पाठांतरों समेत (बौद्ध, संस्कृत साहित्य) ।
  4. आचार्य च़ोंखापा कृत महाबोधिपथक्रम
    हिंदी अनुवाद (प्रथम भाग), (दर्शन) ।
  5. वृत्तिषष्ठियिकवृत्ति (आचार्य नागार्जुन कृत)
    संस्कृत पुनरुद्धार, हिंदी अनुवाद के साथ (दर्शन) ।
  6. आचार्य असंगकृत महायान संग्रह
    प्रथम दो अध्यायों का संस्कृत पुनरुद्धार तथा सम्पूर्ण  पाठ का हिंदी अनुवाद (दर्शन) ।
  7. दीपंकरश्रीज्ञान कृत बोधिपथप्रदीप पंजिका
    पुनरुद्धार तथा अनुवाद (दर्शन) ।
  8. आचार्य वाग्भटकृत अष्टागंहृदयम्, खंड-2
    आचार्य वाग्भट के अष्टागंहृदयम् संक्षिप्त तथा अर्थस्पष्टीकरणात्मक तिब्बती भाष्य तथा अंतिम 6 सूत्रस्थान अध्यायों का संस्कृत अनुवाद (वैद्यक) ।
  9. आचार्य चंद्रकीर्तिकृत मध्यमकावतार का छठाँ अध्याय
    (हिंदी अनुवाद) (दर्शन)
  10. अशोकावदान:
    हिंदी अनुवाद (बौद्ध संस्कृत साहित्य) ।
  11. आचार्य हर्षदेवकृत नागानन्द नाटकम्
    संस्कृत तथा तिब्बती दोनों पाठांतरों का समालोचनात्मक संपादन (नाटक)
  12. हरिभट्ट कृत जातकमाला
    हिंदी अनुवाद (बौद्ध संस्कृत साहित्य) ।
  13. आचार्य काशिनाथ कृत शीघ्रबोध
    संस्कृत तथा तिब्बती अनुवादों के साथ समालोचनात्मक संपादन (ज्योतिष) ।
  14. आचार्य दिङ्नागकृत प्रमाणसमुच्चय, स्वयं-टीका के साथ
    प्रथम दो अध्यायों का पुनरुद्धार तथा गाथाओं का हिंदी अनुवाद ।
  15. आचार्य जे च़ोंखापाकृत सुभाषित सुवर्णमाला के दो अध्याय
    (2 तथा 3) : हिंदी अनुवाद (दर्शन) ।
  16. लोलिंबराजकृत वैद्यजीवनम्
    तिब्बती अनुवाद (वैद्यक) । 

भावी प्रकल्प

  1. आचार्य शान्तिदेवकृत बोधिचर्यावतार, पंजिका के साथ : संस्कृत तथा तिब्बती  समालोचनात्मक संपादन
    समाज के बेहतर स्वास्थ्य के लिए योगदान तथा छात्रों को व्यावहारिक सुविधा प्रदान करता है ।
  2. आचार्य शान्तिदेवकृत शिक्षासमुच्चय
    संस्कृत तथा तिब्बती समालोचनात्मक संपादन ।
  3. कालिदास का   श्रुतबोध
    संस्कृत तथा तिब्बती समालोचनात्मक संपादन ।
  4. वाग्भटकृत अष्टांगहृदय, खण्ड-2
    संस्कृत समालोचनात्मक संपादन तथा तिब्बती भाष्य ।
  5. आचार्य असंगकृत सूत्रालंकार
    समालोचनात्मक संपादन, हिंदी अनुवाद के साथ ।
  6. आर्यसन्धिनिर्मोचनसूत्र
    समालोचनात्मक संपादन तथा हिंदी अनुवाद ।
  7. आचार्य नागार्जुनकृत प्रज्ञादंड तथा प्रज्ञाशतक
    समालोचनात्मक संपादन, पुनरुद्धार तथा  अनुवाद ।